a paragraph about importance of water in hindi

जल मनुष्य की बहुत बड़ी आवश्यकता है, इसके बिना हमारे जीवन की कल्पना करना कठिन है। हमारे शरी में जल की मात्रा भी 90 प्रतिशत तक मानी जाती है। इससे अनुमान लगाया जा सकता है जल का हमारे जीवन में कितना महत्व है। जबसे पृथ्वी का निर्माण हुआ है, जल भी हमारे साथ रहा है। पृथ्वी के हर छोटे बड़े प्राणी, जीव और पेड़-पौधों के लिए जल की बहुत आवश्यकता होती है। हमारे ग्रह में जल ही चारों तरफ व्याप्त है। पृथ्वी में सबसे अधिक जल की मात्रा है। हमारी पृथ्वी में यह तरल और ठोस रूपों में विद्यमान रहता है। पूरे ग्रह की आपूर्ति इन्हीं रूपों से होती है। यह समृद्र, नदियों में पाया जाता है। समृद्र का पानी खारा होता है, यह जलीय जीवों के लिए उचित होता है। अन्य कोई इस जल का प्रयोग नहीं कर सकते हैं। नदियों का पानी पीने के लिए उपयुक्त होता है और इसी पर सभी निर्भर रहते हैं। नदियो में जल बर्फों के पिघलने से प्राप्त होता है। हमारे दैनिक जीवन में जल का बहुत महत्व है। हमारे जीवन तो इसी पर निर्भर है। यह हमारे दैनिक जीवन में हर प्रकार से इसका प्रयोग किया जाता है। मनुष्य के शरीर में यदि पानी की कमी हो जाए तो उसका बहुत सी कठिनाईयों का प्रयोग करना पड़े। परन्तु विडंबना देखिए हम मनुष्य ने अपने इस जीवनदायी अमृत को दूषित करना प्रांरभ कर दिया है। इसका परिणाम यह हुआ है कि अब हमारे पीने के लिए ही जल उपलब्ध नहीं हो रहा है। यह हमारे और हमारी आने वाली पीढ़ियों के लिए उपयुक्त नहीं है।

  • 24

bad answers

  • 2

water is very important and esential in our life,so water is water

  • 0
water is water
  • 0

water is the most essential element of life because without water we can't make tea

  • 0

जल मनुष्य की बहुत बड़ी आवश्यकता है, इसके बिना हमारे जीवन की कल्पना करना कठिन है। हमारे शरी में जल की मात्रा भी 90 प्रतिशत तक मानी जाती है। इससे अनुमान लगाया जा सकता है जल का हमारे जीवन में कितना महत्व है। जबसे पृथ्वी का निर्माण हुआ है, जल भी हमारे साथ रहा है। पृथ्वी के हर छोटे बड़े प्राणी, जीव और पेड़-पौधों के लिए जल की बहुत आवश्यकता होती है। हमारे ग्रह में जल ही चारों तरफ व्याप्त है। पृथ्वी में सबसे अधिक जल की मात्रा है। हमारी पृथ्वी में यह तरल और ठोस रूपों में विद्यमान रहता है। पूरे ग्रह की आपूर्ति इन्हीं रूपों से होती है। यह समृद्र, नदियों में पाया जाता है। समृद्र का पानी खारा होता है, यह जलीय जीवों के लिए उचित होता है। अन्य कोई इस जल का प्रयोग नहीं कर सकते हैं। नदियों का पानी पीने के लिए उपयुक्त होता है और इसी पर सभी निर्भर रहते हैं। नदियो में जल बर्फों के पिघलने से प्राप्त होता है। हमारे दैनिक जीवन में जल का बहुत महत्व है। हमारे जीवन तो इसी पर निर्भर है। यह हमारे दैनिक जीवन में हर प्रकार से इसका प्रयोग किया जाता है। मनुष्य के शरीर में यदि पानी की कमी हो जाए तो उसका बहुत सी कठिनाईयों का प्रयोग करना पड़े। परन्तु विडंबना देखिए हम मनुष्य ने अपने इस जीवनदायी अमृत को दूषित करना प्रांरभ कर दिया है। इसका परिणाम यह हुआ है कि अब हमारे पीने के लिए ही जल उपलब्ध नहीं हो रहा है। यह हमारे और हमारी आने वाली पीढ़ियों के लिए उपयुक्त नहीं है।

  • 6

जल मनुष्य की बहुत बड़ी आवश्यकता है, इसके बिना हमारे जीवन की कल्पना करना कठिन है। हमारे शरी में जल की मात्रा भी 90 प्रतिशत तक मानी जाती है। इससे अनुमान लगाया जा सकता है जल का हमारे जीवन में कितना महत्व है। जबसे पृथ्वी का निर्माण हुआ है, जल भी हमारे साथ रहा है। पृथ्वी के हर छोटे बड़े प्राणी, जीव और पेड़-पौधों के लिए जल की बहुत आवश्यकता होती है। हमारे ग्रह में जल ही चारों तरफ व्याप्त है। पृथ्वी में सबसे अधिक जल की मात्रा है। हमारी पृथ्वी में यह तरल और ठोस रूपों में विद्यमान रहता है। पूरे ग्रह की आपूर्ति इन्हीं रूपों से होती है। यह समृद्र, नदियों में पाया जाता है। समृद्र का पानी खारा होता है, यह जलीय जीवों के लिए उचित होता है। अन्य कोई इस जल का प्रयोग नहीं कर सकते हैं। नदियों का पानी पीने के लिए उपयुक्त होता है और इसी पर सभी निर्भर रहते हैं। नदियो में जल बर्फों के पिघलने से प्राप्त होता है। हमारे दैनिक जीवन में जल का बहुत महत्व है। हमारे जीवन तो इसी पर निर्भर है। यह हमारे दैनिक जीवन में हर प्रकार से इसका प्रयोग किया जाता है। मनुष्य के शरीर में यदि पानी की कमी हो जाए तो उसका बहुत सी कठिनाईयों का प्रयोग करना पड़े। परन्तु विडंबना देखिए हम मनुष्य ने अपने इस जीवनदायी अमृत को दूषित करना प्रांरभ कर दिया है। इसका परिणाम यह हुआ है कि अब हमारे पीने के लिए ही जल उपलब्ध नहीं हो रहा है। यह हमारे और हमारी आने वाली पीढ़ियों के लिए उपयुक्त नहीं है।

  • 5
I think you should do an internet search
  • 0
good answer
  • 0
water is precious recourse
  • 0
GOOD ANSWER VERY USEFUL
  • 3
Please find this answer

  • 1

धरती अनाज उत्पन्न न करती, पशु सास के बिना दूध न देते, हमें पीने के लिए दूध न मिलता । जल दो प्रकार का होता हैँ – एक खारा एवं दूसरा मीठा । पीने वाला जल मीठा होता है । समुन्द्र का पानी खारा और नमकीन ‘होता है । वह पानी पीने के काम नहीं आता । जो पानी बहता रहता ‘है वह सड़ जाता है उसमें से बदबू आती है । उस पानी में अनेक प्रकार के कीड़े? मकोड़े तथा मच्छरों से ही महामारी फैलती है । हमें भी अपने घरों के आसपास, आगे-पीछे पानी खड़ा नहीं होने देना चाहिए । इससे हमारा आस -पड़ोस साफ रहेगा तथा हम तंदुरुस्त रहेंगे ।

हमें पानी की बचत करनी चाहिए । पानी को बर्बाद नहीं करना चाहिए । पानी का इस्तेमाल कम से कम करना चाहिए । पानी के नल को व्यर्थ में ही चलते नहीं देना चाहिए । गर्मियों में पानी की अधिक आवश्यकता होती है । अपने वाहनों को पानी से न धोकर उसे भीगे हुए वस्त्र से ही साफ करना चाहिए । पानी का प्रयोग लापरवाही से नहीं करना चाहिए । बढ़ती आबादी के कारण पानी का प्रयोग भी अधिक होने लगा है । मकान बनाने के लिए, पीने के लिए. स्नान के लिए. कपड़े. बर्तन धोने के लिए पानी को आवश्यकता होती है इसलिए हमें पानी की बचत करनी चाहिए ।​

बरसात के दिनों में पानी उबाल कर पीना चाहिए । पानी को उबालकर पीने से उसमें विद्यमान कीटाणु मर जाते हैं । इस प्रकार पेट की बीमारियों से बचा जा सकता है । धरती पर पानी की कमी. है । धरती दिन-प्रतिदिन गर्म हो रही है । ग्लेशियर पिघल रहै हैं जिस कारण नदियों में पानी की कमी होती जा रही है जैसे गंगोतरी ग्लेशियर से गंगा निकलती है । वह तेज धूप तथा गर्मी के कारण पिघल रहा है । वह दिन दूर नहीं जब गंगा नदी सूख जाएगी । उत्तरी तथा दक्षिणी ध्रुव की बर्फ पिघल रही है । इस कारण समुद्र का पानी बढ़ जाएगा तथा उसके आसपास बसे नगर समुद्र में आलोप हो जाएंगे । जल के अनेक लाभ हैं ।

जल केवल हमारी प्यास ही नहीं बुझाते बल्कि इससे बिजली भी पैदा की जाती है । नदियों पर बड़े-बड़े बांध बनाकर पानी को रोका जा रहा है जिससे बिजली पैदा की जाती है । उस पानी को नहरों द्वारा खेती के लिए प्रयोग किया जाता है । बांध के पीछे रोके हुए पानी को झीलों के रूप में बदला जा रहा है जिसमें मछली पालन किया जाता है । 

  • 1
Ped ke Pane ke bhitar poore Nahin Hota tab ped ki Jad ko Ped ke bhitar Sahara Nahin Hota tab ped ki Jad usse Phatte tak pani kaise pahunchta hai is Kriya commoners Patti Shastra mein kya kehte hain kya is Kriya ko janne Ke Liye Koi Aasan prayog hai
  • 0
Ped ke bhitar Pukara Nahin Hota To Pyar ki jarurat se Phatte tak pani kaise pahunchta hai iske liye account sweety Shastra mein kya kehte hain kya is Kriya ko janne ke liye ek Koi Asan prayog hai
  • 0
Please find this answer

  • 0
8th class
  • 0
poem
  • 0
Please find this answer

  • 0
English subject
  • 0
Telugu subject
  • 0
mathematics 8th class
  • 0
Please find this answer

  • 0
licence nikalne ki prakriya
  • 0
Please find this answer

  • 0
8th class classes online live

  • 0
Prithvi ka Nirman kaise hua
  • 0
Rasayan Vigyan ke Pratik
  • 0
aathvin class ki math
  • 0
Please find this answer

  • 0
OK wait
  • 0
Please find this answer

  • 0
Pani Ki Kahani ke bare mein paath ke bare mein Shiksha mein kya Milta Hai
  • 0
What are you looking for?