aap Rohit Sharma hai apne Mitra ko Patra likhkar internet ke prayog se hone wale Labh aur Hani bataiye

मित्र
आपका उत्तर इस प्रकार है।

पता--------
दिनांक-----

प्रिय रमेश,
मेरा प्यार लेना!
मुझे पता चला है कि तुम अभी भी डाक के माध्यम से  पत्र व्यवहार करते हो। तुम कंप्यूटर क्यों नहीं इस्तेमाल करते। कंप्यूटर के बहुत से लाभ हैं  और हानियां भी हैं। मैं तुम्हें इसके बारे में संक्षेप में बताता हूँ। इंटरनेट संचार का एक सुगम माध्यम है। आज के समय में इंटरनेट हर व्यक्ति की आवश्यकता बनता जा रहा है। इसका जाल पूरे विश्व में फैला हुआ है। यह टेलिफोन की लाइनों, उपग्रहों और प्रकाशीय केबिल के द्वारा कंप्यूटर से जुड़ा होता है। कंप्यूटर के आविष्कार के कारण ही इंटरनेट अस्तित्व में आया। इंटरनेट के माध्यम से विश्व के किसी भी कोने में समस्त जानकारी एक स्थान से दूसरे स्थान में कंप्यूटर से सरलता व शीघ्रता से भेजी और पढ़ी जा सकती है। कई असमाजिक तत्वों द्वारा इंटनेट का दुरूपयोग किया जा रहा है। कुछ लोग वायरस के द्वारा महत्वपूर्ण वेब साईटों को नुकसान पहुँचाने का प्रयास करते हैं। 
अब पत्र समाप्त करता हूँ। अपना ध्यान रखना और अपने माता-पिता को मेरा प्रणाम कहना। 

तुम्हारा मित्र,
रोहित शर्मा

  • 0
What are you looking for?