Answer this question?

मित्र

अवध नरेश को चित्रकूट इसलिए जाना पड़ा क्योंकि उन्हें 14 वर्ष तक का वनवास में रहना था । चित्रकूट एक तपोवन था, जहाँ ऋषि-मुनियों द्वारा तपस्या की जाती थी। वहाँ विभिन्न मुनियों के आश्रम भी थे । श्रीराम को यह स्थान वनवास बिताने के लिए ऊपयुक्त लगा इसलिए वह यहाँ आकर निवास करने लगे ।

  • 0
??? ???? ?? ???????? ???? ????? ?? ????? ??? ???? ???? ???? ???? ?? ???????? ?? ?? ?? ???? ?? ??? ??? ?? ????? ?? ??? ??? ???? ???? ???
  • 0
What are you looking for?