Balgobin bhagat ji putravadhu ki aisi kon si ichha thi jise ve pura nahi kar paye?

मित्र!
आपके प्रश्न के लिए हम अपने विचार दे रहे हैं। आप इनकी सहायता से अपना उत्तर पूरा कर सकते हैं।

पुत्र के मरने के बाद बालगोबिन भगत अपनी पुत्रवधू का पुनर्विवाह कराना चाहते थे। बालगोबिन भगत की पुत्रवधू उनकी सेवा करना चाहती थी। वह खुद रहकर बालगोबिन भगत की देखभाल करना चाहती थी। उनके खाने-पीने का ध्यान रखना चाहती थी। वह कहती मेरे जाने के बाद आपको कोई पानी भी पूछने वाला नहीं होगा।

  • 13
use vahi par na rok kar mayke bhej diya.  yahi vi ivha hai
  • 10
Arnav bhai parne aaya hai toh par le... Bekaar ki chezzo main dimaag mat laga
  • 2
What are you looking for?