danturit muskan poem ka kavya saundarya kijiye?

मित्र!
पूरे पाठ का काव्य सौंदर्य लिखकर देना संभव नहीं है। हम आपको आरंभिक पंक्तियों का काव्य सौंदर्य दे रहे हैं बाकी आप स्वयं इसी तरह से लिखने का प्रयास करें। 

1. धूली धूसर तथा परस पाकर में अनुप्रास अलंकार है।

2. इसकी भाषा सरल तथा सहज है।

3. तत्सम शब्दावली का सुंदर प्रयोग किया गया है।

 

  • 3
udaharano ka sundar prayog
karun ras ka prayog 
 
  • 2
Danturik muskaan ek bache ki madhur muskaan ko darshaata hai
  • -5
Love u baby
  • -9
What are you looking for?