Dohe mein prayukth baasha tatha ras ke vishay mein bathaaiye.

मित्र सभी दोहों में ब्रजभाषा का प्रयोग किया गया है। तथा कुछ दोहों में बिहारी ने श्रृंगार रस का प्रयोग किया है।

  • 0
What are you looking for?