Film ki safalta mein abhinay karne wale kalakaron ke atirikt aur kin-kin logon ka yogdaan hota hai? Nibandh likhiye.

एक फिल्म की सफलता का श्रेय उन कलाकारों को मिलता है, जो फिल्मों में दिखाए जाते हैं। परन्तु मात्र उनसे फिल्म नहीं बनती है। इसके पीछे बहुत बड़ी संख्या में लोग विद्यमान होते हैं। प्राय इनका पता तब चलता है, जब पुरस्कार समारोह में पुरस्कार वितरण होता है। हम प्रायः निर्माता, निर्देशक और कलाकारों को ही फिल्म का हिस्सा मानकर चलते हैं। और प्रायः इन्हीं को समाज में मान-सम्मान और धन मिलता है। बाकी सब किसी गुमनाम गलियों में भटक रहे होते हैं। इनकी लंबी सूची है, इनमें, तकनीशीयन, स्पेशल इफेक्ट टीम, मेकअप आर्टिस्ट, फाइटर, डुप्लीकेट कलाकार, स्पाट बॉय, कैमरामेन, ड्रेस डिजायनर, ज्वुलरी डिजायनर, सह-निर्देशक, साथी कलाकार, संपादक, लेखक, छायाकर, संगीतकार, गीतकार इत्यादि होते हैं। परन्तु जब फिल्म बनती है, तो इसका सारा श्रेय इसमें दिखाए जाने वाले कलाकारों को मिलता है। अन्य लोग जो अपना योगदान देकर फिल्म को सफलता के शिखर पर पहुँचा देते हैं, उनका स्थान गौण ही रहता है। परन्तु इसके लिए इन्हें दुख नहीं होता, और नई फिल्म में फिर से काम करने को तैयार हो जाते हैं। यदि ये लोग काम करना बंद कर दें, तो एक फिल्म बन ही नहीं सकता है।

  • 6
What are you looking for?