GARV AUR GHAMAND MEIN KYA ANTAR HAI

मित्र जब हम कोई अच्छा कार्य करते हैं, तो हमें या हमारे अपनों को हम पर गर्व होता है परन्तु जब हमारा गर्व इस सीमा तक बढ़ जाता है कि हम दूसरों को अपने आगे कुछ नहीं समझते और उनका अपमान करते हैं, तब वह घमंड कहलाता है। यही कारण है कि अंग्रेज़ी में भी इसके लिए अलग-अलग नाम है। boasting (घमंड) और Proud (गर्व)

  • 2
What are you looking for?