कविता में (, − आदि) जैसे विराम चिह्नों का उपयोग रुकने, आगे-बढ़ने अथवा किसी खास भाव को अभिव्यक्त करने के लिए किया जाता है। कविता पढ़ने में इन विराम चिह्नों का प्रभावी प्रयोग करते हुए काव्य पाठ कीजिए। गद्य में आमतौर पर है शब्द का प्रयोग वाक्य के अंत में किया जाता है, जैसे - देशराज जाता है। अब कविता की निम्न पंक्तियों को देखिए-

'कण-कण में है व्याप्त......वही तान गाती रहती है,'

इन पंक्तियों में है शब्द का प्रयोग अलग-अलग जगहों पर किया गया है। कविता में अगर आपको ऐसे अन्य प्रयोग मिलें तो उन्हें छाँटकर लिखिए।

है का उदाहरण इस प्रकार है -

कंठ रूका है महानाश का

कारक गीत रूद्ध होता है

आग लगेगी क्षण में, हृत्तल में

अब क्षुब्ध-युद्ध होता है

  • 0
What are you looking for?