janta ka lekhak kise kaha gya hai aur kyo?

प्रेमचंद को कहा गया है क्योंकि उन्होंने अपने उपन्यासों और कहानियों को जनता के लिए बनाया था।

  • 1
What are you looking for?