lekhak ne upbhokta sanskriti ko hamare samaj mein chunoti kyun kaha hai

नमस्कार मित्र!
उपभोक्ता संस्कृति हमारे समाज के लिए चुनौती इसलिए है क्योंकि हमारा समाज इसके बढ़ने से दिखावे की झूठी दुनिया में प्रवेश कर रहा है। इसके कारण लोगों में आपसी बैर बढ़ रहे हैं। सब स्वयं को दूसरों से अच्छा दिखाना चाहते हैं। फिर वह इस दिखावे में आकर कितना पैसा बर्बाद कर दें। इसके कारण मानसिक तनाव भी बढ़ रहा है। हम इसके कारण पाश्चात्य संस्कृति का अनुसरण कर रहे हैं। ये हमारी संस्कृति को भ्रष्ट और नष्ट कर रहा है। ऐसे कई कारण है, जो हमारे लिए चुनौती के समान हैं।  
 
ढेरों शुभकामनाएँ!

  • 8

kya chunoti kaha hai?

  • 0

 mam plz answer this question :- 

aap ek chatravas(hostel) mein rahte hai , kuch pathye pustak kharidne ke liye aapko paiso ki avaśyakata hai.  paise mangvate hua apne pita ji ko ek patra likhiye.

  • 0

 and answer this question also 

summery of each savaiye plz .

  • -2

 hey first make it clear yaar wat u want to ask

  • -1
What are you looking for?