Manushya ko aapsi prem sadbhav ko Banaye rakhne ke liye kya karna chahiye aur kyon ?Prem Ka dhaga tutne par kya parivartan aata hai? Yeh na tute iske liye kya apekshit hai?

प्रिय मित्र,
 
मनुष्य को आपसी प्रेम सद्भाव को बनाये रखने के लिए हर-एक छोटी-बड़ी वस्तु का को महत्व देना चाहिए । जो काम सुई कर सकती है वह काम तलवार नहीं कर सकती है और जो काम तलवार कर सकती है वह कार्य सुई नहीं कर सकती अत: सबकी अपनी-अपनी उपयोगिता होती है और किसी की भी उपेक्षा नहीं करनी चाहिए। 

जैसे टूटे हुए धागे को जोड़ने से उसमें गाँठ पड़ जाती है और वह पहले की तरह नहीं हो पाता, उसी तरह से रिश्ते के टूटने के बाद रिश्तों को फिर जोड़कर पहले की तरह नहीं बनाया जा सकता।

प्रेम सम्बन्ध बड़ी ही कठिनाई से बनते हैं इसलिए इन्हें जतन से सँभालकर रखना चाहिए। 

  • 2
No I don't know the answer ,if I would so why would I have asked the question?
  • 2
What are you looking for?