payani nupur devs hindi poem meaning

पहली रचना में देव जी ने श्री कृष्ण के रूप-सौंदर्य का बड़ा सुंदर वर्णन किया है। कृष्ण की वेशभूषा और पहने हुए आभूषण में कृष्ण का सौंदर्य मन को मोह लेता है। वह ऐसे लगते हैं मानो जग रूपी मंदिर में रखे गए दीपक और ब्रज के दूल्हे हों।

  • 1
What are you looking for?