Pla ad sme addtional notes on kriya visheshan

मित्र हमने साइट पर क्रिया विशेषण को  बहुत सरल भाषा में उदाहरणों के माध्यम से समझाया है। नोट्स की आवश्यकता हमें तब पड़ती है, जब कोई विषय या तो हमें समझ में नहीं आ रहा होता है या फिर हम आखिरी समय में तैयारियों के लिए नोट्स बनाकर रख लेते हैं। परन्तु यदि आप एक बार ध्यान से हमारी दी हुई सामग्री को पढ़ने का प्रयास करेंगे, तो आपको नोट्स की आवश्यकता ही नहीं पड़ेगी। 

वैसे भी मित्र जो शब्द क्रिया की विशेषता बताते हैं उन्हें क्रिया विशेषण शब्द कहते हैं।

अब आप प्रश्न उठता है कि क्रिया की क्या विशेषता होती है। हम जो कार्य करते हैं, वे क्रिया कहलाती है। जैसे हँसना, रोना, उठना, चलना, बैठना, गाना, खाना, सोना, तैरना, बोलना, चढ़ना, उतरना, सोचना, लिखना, टाइप करना। 

इन शब्दों की जो शब्द विशेषता बताते हैं, वे क्रिया विशेषण शब्द कहलाते हैं।

१. हँसना- राम ज़ोर से हँस रहा था।

२. रोना- राम धीरे-धीरे रो रहा था।

३. उठना- राम तेज़ी से उठा।

  • 0
What are you looking for?