Please answer this question 🙏🏻

उत्तर
अनुवाद  : सूर्यास्त के समय नदी के पश्चिम की ओर सूरज विदाई ले रहा था , पक्षियों के  झुंड अपने घोंसले के लिए उड़ रहे थे , जबकि गायों और भैंसो  का झुंड अपने मालिको के घरों में लौट रहे थे , तभी धीमी बारिश शुरू हो गई थी सभी मुक्ति का आनंद ले रहे थे । असहनीय गर्मी के दर्द से न केवल इंसान बल्कि पशु  पक्षी , जानवर , कीड़े मकोड़े भी राहत महसूस करते है । 


  • 0
What are you looking for?