provide format of charitra chitran (Hindi Writing Skills)

मित्र!
चरित्र-चित्रण बताने का कोई प्रारुप नहीं है। इसे पाठ को पढ़कर समझना पड़ता है। जब आप पाठ को पढ़ेंगे, तो आपको समझ में आ जाएगा कि पात्र कैसा है? उसका स्वभाव कैसा है? जैसे वह चोरी करता है, किसी को मारता है, किसी का अहित करता है, तो वह पात्र बुरा है। यदि कोई पात्र सच बोलता है, ईमानदार है, विनम्रतापूर्वक बोलता है, तो वह पात्र अच्छा माना जाता है।

  • -1
What are you looking for?