shila agarwal ne lekhika ko kya prerna di?

मित्र शीला अग्रवाल ने लेखिका को साहित्य के साथ ही देश की स्थिति में भागीदारी की प्रेरणा दी। उनकी बातें सुनकर ही लेखिका के मन में स्वतंत्रता संग्राम में हिस्सा लेने की भावना जागी। 

  • 3
What are you looking for?