Someone please give me some Extra Questions of hum panchi unmukt gagan ke

 मित्र, हम आपको कुछ प्रश्न उत्तर के साथ दे रहे हैं |
[1]-भाव स्पष्ट कीजिए-       या तो क्षितिज मिलन बन जाता/या तनती साँसों की डोरी।

स्वर्ण-श्रृंखला और लाल किरण-सी में रेखांकित शब्द गुणवाचक विशेषण हैं। कविता से ढूँढ़कर इस प्रकार के तीन और उदाहरण लिखिए।

:क्षितिज का अर्थ है जहाँ धरती आकाश मिलते हैं और पक्षी क्षितिज के अन्त तक जाने की लालसा रखते हैं फिर चाहे उन्हें किसी भी स्थिति का सामना करना पड़े। वो चाहते हैं या तो आज वह क्षितिज का अन्तिम छोर ही प्राप्त कर लें अन्यथा अपने प्राणों को न्योछावर कर दें।



[2]स्वर्ण-श्रृंखला और लाल किरण-सी में रेखांकित शब्द गुणवाचक विशेषण हैं। कविता से ढूँढ़कर इस प्रकार के तीन और उदाहरण लिखिए।

स्वर्ण-श्रृंखला और लाल किरण-सी में रेखांकित शब्द गुणवाचक विशेषण हैं। कविता से ढूँढ़कर इस प्रकार के तीन और उदाहरण लिखिए।

Answer:

(i) पुलकित-पंख

(ii) कड़वा-निबौरी

(iii) उन्मुक्त-गगन

 

 

  • 0
I which school do you read
  • 0
Think 7th
  • 0
प्रश्न-1 हम पंछी उन्मुक्त गगन के पाठ के रचयिता कौन हैं? प्रश्न-2 पंछी अपना मधुर गीत कब नहीं गए पाएँगें? प्रश्न-3 पंछी कहाँ का जल पीना पसंद करते हैं? प्रश्न-4 पंछियों के लिए पिंजरे में रखे मैदा से बेहतर क्या है? प्रश्न-5 पंछियों के अरमान क्या थे? प्रश्न-6 पंछी कैसा जीवन चाहते हैं? प्रश्न-7 पंछी क्या खाते पीते हैं? प्रश्न-8 पिंजरे में पंख फ़ैलाने पर पंछियों की क्या दशा होगी? प्रश्न-9 पिंजरे में पंछी क्या-क्या नहीं कर सकते? प्रश्न-10 कविता में पंछी क्या याचना कर रहें हैं? प्रश्न-11 इस कविता के माध्यम से पंछी क्या संदेश देना चाहते हैं? प्रश्न-12 हर तरह की सुख सुवधाएं पाकर भी पक्षी पिंजरे में बंद क्यों नहीं रहना चाहते? प्रश्न-13 पक्षी उन्मुक्त रहकर अपनी कौन - कौन सी इच्छाएँ पूरी करना चाहते थे? प्रश्न-14 भाव स्पष्ट कीजिए - "या तो क्षितिज मिलन बन जाता / या तनती साँसो की डोरी।"
  • 0
THANK YOU RAHUL
  • 0
What are you looking for?