swar sandhi aur vyanjan sandhi mein antar kya hai

मित्र इनके बीच इस इस प्रकार का अंतर हो सकता है- 
स्वर संधि- दो स्वरों के मेल से जो परिवर्तन होता है उसे स्वर संधि कहते हैं; जैसे- परम+ अर्थ- परमार्थ।
व्यंजन संधि के अंदर व्यंजन और स्वर का मेल होता है। उदाहरण के लिए सदुपयोग शब्द। इसकी संधि की जाए, तो सत्+ उपयोग होगा। इस संधि विच्छेद को ध्यानपूर्वक देखिए सत् में त् आधा है उसमें अ नहीं लगा है तथा इसका मेल उ से हो रहा है। उ एक स्वर है। अतः यह व्यंजन संधि का उदाहरण है।  

  • 7
What are you looking for?