Select Board & Class

Login
Keerthana Girish asked a question
Subject: Hindi, asked on on 14/5/19
Guitars R0ck asked a question
Subject: Hindi, asked on on 22/7/10
Krish Subramaniam asked a question
Subject: Hindi, asked on on 5/8/17
​'आज जो बात थी वह निराली थी' − किस बात से पता चल रहा था कि आज का दिन अपने आप में निराला है? स्पष्ट कीजिए।
26 जनवरी का दिन इसलिए निराला था क्योंकि स्वतंत्रता दिवस मनाने की प्रथम आवृत्ति थी। 
इस दिन को निराला बनाने के लिए कलकत्तावासी हर संभव प्रयास कर रहे थे । 
सुभाष बाबू के आह्वान पर पूरे कलकत्ता में अनेक संगठनों के माध्यम से जुलूस व सभाओं की जोशीली तैयारी थी। 
स्त्रियाँ भी जुलूस में बढ़चढ़कर भाग ले रही थी। 
आज़ादी मनाने के लिए पूरे कलकत्ता शहर में जनसभाओं और झंडारोहण उत्सवों का आयोजन किया गया।
पुलिस ने सभा करने को गैरकानूनी कहा था ।
आदेश के बावजूद सैकड़ो लोग तीन बजे से ही पार्क में पहुँच रहे थे।
पुलिस भरपूर तैयारी के बाद भी सफल नहीं हो पाई।
I have written in simple sentences,kindly correct the grammar mistakes and rewrite the sentences, please merit experts
Ashmita Yadav asked a question
Subject: Hindi, asked on on 28/2/20
alantjohn98... asked a question
Subject: Hindi, asked on on 6/7/13
Suyash Agrawal asked a question
Subject: Hindi, asked on on 4/6/14
Shilna asked a question
Subject: Hindi, asked on on 23/10/13
Shaurya asked a question
Subject: Hindi, asked on on 12/9/19
Dakshita Hangloo asked a question
Subject: Hindi, asked on on 1/4/20
Arinjay Bhattacharyya asked a question
Subject: Hindi, asked on on 9/9/15
Tia asked a question
Subject: Hindi, asked on on 13/7/13
Tia Tanishque asked a question
Subject: Hindi, asked on on 3/7/13
Zeel Vyas & 3 others asked a question
Subject: Hindi, asked on on 29/9/14
Manan Malhotra asked a question
Subject: Hindi, asked on on 20/9/13
Gayatri asked a question
Subject: Hindi, asked on on 20/9/14
Vanshita asked a question
Subject: Hindi, asked on on 27/4/14
Roman asked a question
Subject: Hindi, asked on on 20/9/15
Khushbu & 1 other asked a question
Subject: Hindi, asked on on 11/3/15
Sidharth Nair asked a question
Subject: Hindi, asked on on 20/9/15
Sakshi asked a question
Subject: Hindi, asked on on 4/5/15
Devanshi Bala asked a question
Subject: Hindi, asked on on 1/5/17
Mnhjuli. asked a question
Subject: Hindi, asked on on 3/9/13
Kolina asked a question
Subject: Hindi, asked on on 10/7/20
Vinayak asked a question
Subject: Hindi, asked on on 1/6/14
Devanshi Bala asked a question
Subject: Hindi, asked on on 1/5/17
Tarun asked a question
Subject: Hindi, asked on on 29/5/15
Madiha Hasan asked a question
Subject: Hindi, asked on on 22/6/18
Krish Subramaniam asked a question
Subject: Hindi, asked on on 5/8/17
​बहुत से लोग घायल हुए, बहुतों को लॉकअप में रखा गया, बहुत-सी स्त्रियाँ जेल गईं, फिर भी इस दिन को अपूर्व बताया गया है। आपके विचार में यह सब अपूर्व क्यों है? अपने शब्दों में लिखिए।
सुभाष बाबू के आह्वान पर पूरे कलकत्ता में अनेक संगठनों के माध्यम से जुलूस व सभाओं की जोशीली तैयारी थी।
स्त्रियाँ भी जुलूस में बढ़चढ़कर भाग ले रही थी।
आज़ादी मनाने के लिए पूरे कलकत्ता शहर में जनसभाओं और झंडारोहण उत्सवों का आयोजन किया गया।
अंग्रेज़ों ने कानून बनाकर, आन्दोलन और जुलूसों को गैर कानूनी घोषित किया हुआ था ।
परन्तु लोगों पर इसका कोई असर नहीं था।
वे आज़ादी के लिए अपना जुलूस बना रहे थे।
वे गुलामी की जंजीरों को तोड़ने का प्रयास करते रहे थे।
मेरे अनुसार यह दिन अपूर्व इसलिए था क्योंकि इससे पहले कलकत्ता में आजादी के लिए इतने बड़े प्रयास नहीं किया गया था।
kindly please correct my answers, it is urgent, immediately reply to this post, only meritnation experts alone, others kindly excuse
Madiha Hasan asked a question
Subject: Hindi, asked on on 22/6/18
Ashmita Yadav asked a question
Subject: Hindi, asked on on 28/2/20
What are you looking for?

Syllabus