Bholanath Apne mitron ke sath Ghanta Ghar Se Bahar Khela Karta Tha apne aap mitron ke sath kaun kaun se chale aur kis Prakar khelna Pasand Karenge Jo Swasth ke liye Labh Ka Aur mitrata Ko badhava Dene Wale Ho?

मित्र भोलानाथ व उसके साथी खेल के लिए आँगन व खेतों पर पड़ी चीजों को ही अपने खेल का आधार बनाते हैं। उनके लिए मिट्टी के बर्तन, पत्थर, पेड़ों के पत्ते, गीली मिट्टी, घर के समान आदि वस्तुए होती थी जिनसे वह खेलते व खुश होते। परन्तु आज हमारे खेलने का सामान इन सब वस्तुओं से भिन्न है। हमारे खेलने के लिए आज क्रिकेट का सामान, भिन्न−भिन्न तरह के वीडियो गेम व कम्प्यूटर गेम आदि बहुत सी चीज़ें हैं जो इनकी तुलना में बहुत अलग हैं।  घर से बाहर खेलने वाले खेल हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होते हैं। मैं अपने मित्रों के साथ क्रिकेट, वॉलीबॉल, पकड़म पकड़ाई इत्यादि खेलता हूँ। यह सारे खेल हमारे स्वास्थ्य को ठीक रखते हैं क्योंकि इनसे शारीरिक और मानसिक विकास होता है।

  • 3
What are you looking for?