Select Board & Class

Login

वाक्य

वाक्य की परिभाषा


दो या दो से अधिक शब्दों के सार्थक समूह को, जिसका पूरा-पूरा अर्थ निकलता है, उसे वाक्य कहते हैं।

उदाहरण

() गाती सीता है गाना।

() सीता गाना गाती है।

पहले वाक्य में शब्दों के इस समूह को हम वाक्य नहीं कह सकते हैं। क्योंकि यह व्यवस्थित (सजा हुआ) नहीं है। लेंकिन यदि हम दूसरे वाक्य पर ध्यान दें तो यह सही ढंग से प्रस्तुत किया गया है जिसका सार्थक अर्थ निकलता है, अत: यह वाक्य है।

वाक्य रचना के नियम -

किसी भी वाक्य के निर्माण करने का एक नियम होता है, जिसे हम इस प्रकार समझ सकते हैं -

कर्ता + क्रिया + कर्म + विशेषण

वाक्य के अंग/ भाग/ खंण्ड -

वाक्य निर्माण के लिए कर्ता तथा क्रिया का होना आवश्यक है। ये दोनों ही वाक्य के अंग हैं। इनके बिना वाक्य पूरा नहीं हो सकता है।

उदाहरण -

() कमला बाज़ार जाती है।

() रमेश स्कूल जाता है।

इन दोनों ही वाक्यों में कमला तथा रमेश कर्ता हैं, जाती है और जाता है क्रिया है तथा बाज़ार औ...

To view the complete topic, please

What are you looking for?

Syllabus